करुणामय परवरिश कार्यशाला, जयपुर, 30-31 जुलाई 2016

आपका स्वागत है करुणामय परवरिश की कार्यशाला में जिसमे बच्चे अपने माता -पिता को बेहतर तरीके से समझ पाए एवं माता पिता अपने बच्चो को साथ गहरे रिश्ते बना पाए | यह कार्यशाला बच्चो एवं माता -पिता दोनों के लिए उपयुक्त है |

kuhuk

इस कार्यशाला का उद्देश्य एक एसी दुनिया बनाना है जहा संवाद के द्वारा माता -पिता /देखभाल करने वाले एवं बच्चे /वयस्क के बीच सच्चे एवं मजबूत रिश्ते बने | यह कार्यशाला अहिंसक संवाद (Nonviolent Communication) पर मार्शल बी रोसेनबर्ग के काम से प्रेरित, शम्मी नंदा द्वारा कुणाल एवं उदितिमा के सहयोग से आयोजित होगी।

क्या हम एसी दुनिया की आकांशा कर सकते है जहा बच्चे /वयस्क और माता-पिता सच्चे एवं मजबूत रिश्ते तथा एक दुसरे के साथ दोस्ती का अनुभव कर सके?? जहा दोनों एक दुसरे के साथ अपनी खुशियों को बाटकर आनंदित हो सके | जहा बच्चे या पेरेंट्स, किसी बात से सहमत न होने पर ‘ना’ कहने के लिए अपने आप को स्वत्रंत महसूस कर सके | और उस न के पीछे की खुवसुरत जरुरत को सुनने के लिए उत्सुक हो |जहा परिवार के सभी सदस्य, अलग-अलग वेष्बिक नजरिया होने के बावजूद भी खुली एवं गहरी बातचीत कर सके | यहां तक कि जब कोई बात बिगड़ जाए और गहरा दर्द हो तब वे एक दूसरे को सुनने के लिए सक्षम हो और रिश्ते को पूर्वस्थिति में लाने का प्रयास करें| जयपुर में इस कार्यशाला में आपका स्वागत है जहा हम इस तरह के सवालो के जबाव एवं अहिंसक संवाद के साथ करुणामय जीवन जीने के तरीके खोजेंगे |

अहिंसक संवाद (NVC) एक एसी दुनिया बनाने में मदद करता है , जहां हम अपनी बात को दूसरो का ख़याल रखते हुए, दोष और अपमान रहित भाषा में व्यक्त कर सकते है | यह सार्वभौमिक एकता की एक गहरी आध्यात्मिकता से जुड़ा है और हमें एसे साधन और तरीके देता है जो हमारे दैनिक जीवन में इस चेतना को बनाये रखने में मदद करता है|

अहिंसक संवाद (NVC) के बारे में अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे https://goo.gl/y7IDUsandwww.cnvc.org

अहिंसक संवाद (NVC) की ये कार्यशाला अहिंसक संवाद के सिद्धांतो तथा दैनिक अनुभव की अवधारणाओं के सम्मिश्रण को सीखने मे किया गया एक छोटा सा प्रयास रहेगा|

फैसिलिटेटर के बारे में – शम्मी जयपुर के रहने वाले है और पिछले बारह वर्षों से यात्रा करते हुए विभिन्न समुदाओ के साथ सस्टेनेबल लिविंग पर काम कर रहे है | शम्मी का अहिंसक संवाद, झगड़ों के समाधान तथा सामूहिक निर्णय लेने की प्रणाली मे काफ़ी गहरी पकड़ है| और अपनी इस पकड़ को देश में तथा देश के बाहर पंहुचाने में शम्मी ने अपना योगदान दिया है|
शम्मी के बारे में अधिक जानकारी के लिए-
ब्लॉग https://courageouscommunication.wordpress.com/
फेसबुक पेज https://www.facebook.com/shammi.nanda.75

कुणाल और उदितिमा इन कार्यशालाओं के आयोजन में शम्मी का मदद करेंगे|
अहिन्साग्राम मे सह मेजबान के रूप में कुणाल और उदितिमा भी अपने जीवन की यात्रा का आनंद ले रहे हैं, तथा अहिंसक संवाद एवं सर्वजनतन्त्र (Sociocracy) को सीखकर दुनिया को देना चाहते है| ये दोनो एक व्यापक जिज्ञासा एवं उत्साह के साथ दुनिया के लिए कुछ करना चाहते है|

शुल्क योगदान- उम्र 21 या उससे कम के लिए कार्यशाला शुल्क इच्छानुसार तथा 21 से अधिक उम्र के प्रत्येक व्यक्ति के लिए प्रत्येक कार्यशाला शुल्क 2000 से 5000 के बीच आपकी क्षमता के अनुसार है | आपका राशि सहयोग फैसिलिटेटर के सपोर्ट , वर्कशॉप के आयोजन एवं ऐसे लोगो के सपोर्ट में भी जायेगा जो वर्कशॉप की पूर्ण राशी देने में असमर्थ है | अगर इसके वावजूद आप न्यूनतम शुक्ल देने मे असमर्थ हो तो रजिस्ट्रेशन फार्म मे स्पष्ट कर सकते है | हम आपको कॉल करेंगे तथा मिलकर ऐसे तरीके खोजने का प्रयास करेंगे जिससे आप हमें बिना पैसो के भी अन्य प्रकार से सहयोग कर सके |

भोजन व्यवस्था- अहिंसाग्राम में हम स्वास्थवर्धक भोजन पर ध्यान देते है | वर्कशॉप में अहिंसाग्राम के द्वारा आरोग्यपूर्ण शाकाहारी भोजन और नाश्ता दिया जावेगा |
अहिंसाग्राम किचन डायरेक्टर भूषण पाटिल, आरोग्यपूर्ण भोजन में माहिर है और वे पूरी वर्कशॉप के दौरान आरोग्यपूर्ण भोजन देगे. वे अहिंसाग्राम मे प्रयोगत्मक भोजन बनाने का आनन्द लेते है और वे उत्साहित है की अपना प्रेम और भोजन आप सभी के साथ बाटे |

29

कार्यशाला में बच्चे – यह कार्यशाला सब उम्र के लोगो के लिए है | अगर आपका बच्चा है और आपको उसको घर छोड़ने मे किसी प्रकार की असुबिधा हो तो आप आपके बच्चे को साथ मे ला सकते हो| हम हमारी ओर से स्वतंत्र एवम् खेलने योग्य वातावरण प्रदान करने में मदद करेंगे | आपकी ओर से बच्चे की देखभाल हेतु कोई आना चाहे तो वो भी आ सकता है |

कृपया बच्चे को वर्कशॉप में लाने से पहले हमें कॉल कर के सूचित करें -9425416058

अगर आप कार्यशाला में भाग लेने के लिए जयपुर के बाहर से आ रहे हैं और यहाँ रहने के लिए एक जगह खोजने हमारी मदद चाहते हैं, तो हमें कॉल कर के सूचित करे | हम दोस्तों के होस्टिंग स्थानों या आसपास रहने के लिए गेस्ट हाउस को ढूंढने में आपकी मदद कर सकते है |

यह कार्यशाला अहिंसाग्राम और उदय – वाल्डोर्फ प्रेरित स्कूल, जयपुर द्वारा होस्ट की है|
वर्कशॉप स्थल :

उदय – वाल्डोर्फ प्रेरित स्कूल,
3 शिव मार्ग, मद्रामपुरा, सिविल लाइंस, सिविल लाइंस मेट्रो स्टेशन के पास , जयपुर 302006
उदय-वाल्डोर्फ से प्रेरित स्कूल की उत्पत्ति जयपुर में एक पूर्ण शिक्षा की जरुरत को देखते हुए हुई| इसका मकसद बढते हुए बच्चो की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए वास्तविक शिक्षा की भूमिका को पूरा करना है|

ये स्कूल वाल्डोर्फ के शिक्षा विज्ञान पर आधारित है, जो एक सच्ची एवं परिक्षण की हुई शिक्षा प्रदान करता है, एवं ऐसे पाठ्यक्रम का पालन करता है जिसका मकसद प्राकृतिक वातावरण में कल्पनाशील खेलो, सार्थक कामो और अर्थपूर्ण कला के माध्यम से बच्चो का शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक, बौद्धिक एवं भावनात्मक रूप से विकास करना है|

रजिस्ट्रेशन के लिए यहाँ क्लिक करे : https://goo.gl/G5w0lj

वर्कशॉप स्थल :
उदय – वाल्डोर्फ प्रेरित स्कूल,
3 शिव मार्ग, मद्रामपुरा, सिविल लाइंस, सिविल लाइंस मेट्रो स्टेशन के पास , जयपुर 302006

दिनांक: 30-31 जुलाई 2016
समय: प्रात:10:00 बजे से सायं 5:00 बजे तक

हिंदी अनुवाद : शिवालक्ष्मी पार्वती गौड़, सहयोग – सम्यक आर्य

Advertisements

Leave a comment

Filed under Community Building, Gift Culture, Nonviolent Communication(NVC), NVC, Parenting, Uncategorized

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s